अल्लादिया खां का घराना


अल्लादिया खां का घराना

अल्लादिया खां ने महाराष्ट्र मे रहकर संगीत साधना की. यह एक उच्च कोटी के गायक थे. अल्लादिया खां ने एक नयी गायन शैली को जन्म दिया जीससे उन्ही के नाम पर एक नये घराने कि उत्पती हुई. आज कल इस घराने कि शिष्य परंपरा में केसरबाई केरकर तथा शंकरराव सरनाईक आदी माने जाते है.

विशेषताए :-

१) इस घराने मे पेंचदार गायकी का प्रयोग किया जाता है.
२) इसमे बोल-तानो कि अपनी निजी विशेषताए पायी जाती है.
३) इसमे अप्रचलित रागो का अधिक प्रयोग किया जाता है.
४) राग के चलन के अनुसार तानो का प्रयोग किया जाता है.
५) इसमे विलंबित लय पर विशेष बल दिया जाता है.
६) कठीण गायकी बनाने कि शिक्षा दि जाती है.


Leave a Reply

Your email address will not be published.